06 February 2023

75 करोड़ से 26 किमी लंबी बनेगी रीवा की यह शानदार सड़क, 10 मीटर चौड़ी होगी

Rewa Samachar - रीवा की एक और सड़क लाजवाब बनेगी। 75 करोड़ खर्च होंगे। भूमिपूजन के बाद निर्माण शुरू हो गया है। रीवा से सेमरिया की सड़क अब स्मूथ बनेगी। 26 किमी का सफर चंद मिनटों में तय किया जाएगा। 10 मीटर चौड़ी बनेगी।



एमपीआरडीसी को एक और सड़क की जिम्मेदारी मिली है। लंबे समय से रीवा सेमरिया मार्ग के निर्माण की कवायद चल रही थी। अब जाकर इसे हरी झंडी मिली है। यह सड़क हायब्रिड एनओटी पैटर्न पर बनाई जा रही है। सड़क करीब 26 किमी लंबी बनेगी। ढेकहा तिराहा सेे यह सड़क गोदहा तक बनाई जाएगी। इस सड़क को सिंहपुर से होते हुए सेमरिया से चचाई, सिरमौर तक बनने वाली एनएच से लिंक किया जाएगा। रीवा में सड़कों का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। सभी सड़कों को चौड़ा किया जा रहा है। इस कड़ी में एक और नाम जुड़ गया है। इसके बनने से सेमरिया वालों को राहत मिलेगी।
 


सड़क का किया गया भूमिपूजन
रीवा सेमरिया मार्ग का शुक्रवार को भूमिपूजन किया गया। इस अवसर पर सांसद रीवा जनार्दन मिश्रा और पूर्व मंत्री, रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ला व सेमरिया केपी त्रिपाठी मौजूद रहे। इसके अलावा एमपीआरडीसी के संभागीय अधिकारी, इंजीनियर और कंपनी के अधिकारी मौजूद रहे। भूमिपूजन के साथ ही काम की शुरुआत भी हो गई है। कपसा गांव में भूमिपूजन किया गया। यह सड़क 24 महीने में पूरा करने का ठेका हुआ है। हालांकि एमपीआरडीसी समय से पहले डेढ़ साल में ही इसे पूरा कराने का लक्ष्य लेकर चल रही है।

 


कुछ इस तरह बनेगी सड़क
ढेकहा तिराहा से गोदहा जंक्शन तक सड़क बनाई जाएगी। करीब 75 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। टाउन पोर्सन में सड़क 12 मीटर चौड़ी रहेगी। सड़क के किनारे पेव्हर ब्लाक लगाए जाएंगे। दोनेां तरफ नाली बनाई जाएगी। इसके अलावा अन्य क्षेत्रों में सड़क की चौड़ाई 10 मीटर रहेगी। दोनों तरफ 1-1 मीटर हार्ड स्टोन लगाया जाएगा।

 


सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
सड़क का निर्माण सिरमौर सेमरिया हाइवे प्राइवेट लिमिटेड कर रही है। सड़क बनाने के पहले ही कंपनी को एमपीआरडीसी से सुरक्षा संबंधी सारे इंतजाम करने के निर्देश जारी कर दिए गए है। एनआरसी के तहत निर्माण स्थलों में सुरक्षा व्यवस्था की गई है। अब तक की सभी सड़कों के निर्माण में कोताही बरती गई लेकिन इस मर्तबा कंपनी के साथ सख्ती बरती जा रही है।

 


60 फीसदी सरकार करेगी भुगतान
सड़क का निर्माण हायब्रिड एनओटी पैटर्न पर कियाजा रहा है। इसमें कंपनी को सरकार 60 फीसदी भुगतान करेगी। यह भुगतान भी 5 किस्तों में किया जाएगा। इसके अलावा शेष 40 फीसदी राशि कंपनी को लोन लेना होगा। यह राशि भी कंपनी बैंक को 10 साल में चुकाएगी। हर 6-6 महीने में किस्त अदा करना होगा।

Today's Latest Posts by: e4you-portal