06 December 2022

बिजली बिल की शिकायत कैसे करें - how to complain about electricity bill

बिजली बिल की शिकायत कैसे करें

मध्य प्रदेश के सभी जिलों के लिए बिजली की शिकायत के लिए 1912 कंप्लेंट नंबर निर्धारित किया गया है जो कि टोल फ्री है, यहां पर आप बिजली संबंधी किसी भी प्रकार की समस्या की शिकायत तो कर सकते हैं लेकिन समाधान मिलने की संभावना 10 से 20% तक ही रहती है पूर्णरूपेण समाधान प्राप्त करने के लिए आपको अपने नजदीकी बिजली कार्यालय में कम से कम 20 से 25 बार जाना पड़ेगा।

शिवराज सरकार में बिजली समस्या से जनता जूझ रही है, आए दिन बिजली की नई समस्या बनी रहती है गलत बिल से जनता परेशान रहती है अक्सर रीडिंग जानबूझकर गलत की जाती है मध्य प्रदेश के सभी विद्युत मंडल पूर्व पश्चिम सेंट्रल सभी विद्युत विभाग जानबूझकर जनता की जेब से सेंधमारी करते हैं सरकार का ही आदेश है कि आप जितना ज्यादा से ज्यादा हो सके जनता से बिजली का पैसा वसूल करें।

गलत बिजली बिल व गलत मीटर रीडिंग से कैसे बचें

गलत बिजली के बिल व गलत मीटर रीडिंग से आप आसानी से बच नहीं सकते फिर भी आप मध्यप्रदेश में निवास करते हैं तो मध्यप्रदेश के सभी विद्युत मंडल लगभग आपको मोबाइल ऐप के माध्यम से मीटर की रीडिंग अपलोड करने की सुविधा प्रदान करते हैं आप निर्धारित तिथियों के भीतर अपनी मीटर रीडिंग अपलोड कर सकते हैं।

लेकिन अपलोड करने के बावजूद भी आप की मीटर रीडिंग गलत हो सकती है इस समस्या से निपटने के लिए आपको अपने मीटर की रीडिंग को अपने मोबाइल में सेव करके अपने नजदीकी कार्यालय में 10 से 12 बार विजिट करना पड़ सकता है तब जाकर आप की रीडिंग सुधर सकती है यदि आपकी रीडिंग बराबर सही आ रही है तो आप बहुत ही भाग्यशाली हैं।

आपको बिजली की समस्या से केवल आपका मीटर ही बचा सकता है आप अपने मीटर की हिफाजत करें मीटर को सुरक्षित रहे रखें मीटर खराब ना होने दें मीटर में लाइट जलती दिखे यदि लाइट जलना बंद हो जाए तो तुरंत मीटर बदलवालें नहीं तो बिजली विभाग इसी ताक में बैठा है कि आपके ऊपर भारी भरकम जुर्माना लगाया जा सकें क्योंकि बिजली विभाग यह कर सकता है कि आपने जानबूझकर मीटर खराब किया है तो बिजली विभाग की कई समस्याओं से बचने का केवल एक ही उपाय है कि आप दिन पर दिन अपने मीटर की पूजा करते रहें और उसे सुरक्षित रखें।

डिजिटल मीटर की गति को कैसे पता करें कि मीटर तेज चल रहा है

डिजिटल मीटर की गति को नापने के लिए एक साधारण मीटर का इस्तेमाल कर सकते हैं और मीटर की गति का अंदाजा लगा सकते हैं लेकिन यदि आपको यह पता भी चल जाता है कि डिजिटल मीटर ज्यादा तेज चल रहा है तो आप ज्यादा कुछ नहीं कर सकते क्योंकि आप केवल कह सकते हैं कि मेरा मैटर ज्यादा तेज चल रहा है तो आपको बदले में एक नया मीटर लगाया जा सकता है कुछ चार्ज लगाकर लेकिन नया मीटर जो लगेगा वह भी ज्यादा तेज ही चलेगा वास्तव में डिजिटल मीटर ज्यादा तेज ही चलता है।

बिजली विभाग व सरकार के झूठे दावे

बिजली विभाग व सरकार दोनों ही झूठे वादे करते हैं की जनता को कोई समस्या नहीं है बिजली सस्ती मिल रही है जबकि ऐसा नहीं है सबसे ज्यादा परेशान करने वाला विभाग बिजली विभाग ही है पूरे मध्यप्रदेश की जनता बिजली विभाग से त्रस्त है आए दिन बिजली विभाग जाना पड़ता है अपनी समस्या को लेकर कोई निराकरण करने वाला आसानी से मिलता भी नहीं है।

Today's Latest Posts by: e4you-portal